Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद: पिता ने पुत्र की हत्या कर शव को काटकर फेंका, कहा- मुझे कोई पछतावा नहीं

अहमदाबाद: पिता ने पुत्र की हत्या कर शव को काटकर फेंका, कहा- मुझे कोई पछतावा नहीं

0
262

अहमदाबाद: वासना और एलिसब्रिज इलाके में मिले मानव अंगों की हत्या के अपराध में बड़ा खुलासा हुआ है. इस मर्डर मिस्ट्री में पिता ने अपने बेटे की हत्या करने के बाद शव को टुकड़ों में काटकर शहर के विभिन्न इलाकों में फेंक दिया गया था. क्राइम ब्रांच ने हत्यारे पिता को गिरफ्तार कर लिया है. पिता को अपने बेटे की हत्या का कोई पछतावा नहीं है. हत्या के पीछे की वजह जानकर आप भी दंग रह जाएंगे.

हत्यारा पिता नेपाल भागने की फिराक में था

पिता नीलेश जोशी ने 17 जुलाई की रात में अपने 21 वर्षीय बेटे स्वयं की बेरहमी से हत्या कर दी थी. हत्या के सबूतों को नष्ट करने के इरादे से शव को टुकड़ों में काटकर शहर के विभिन्न इलाकों में फेंक दिया गया था. आरोपी पिता ने वासना, एलिसब्रिज और जीएमडीसी मैदान में शव के अलग-अलग हिस्सों को फेंक दिया था. उसके बाद नीलेश जोशी नेपाल भागने की फिराक में था. लेकिन अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने उसे राजस्थान से गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि आरोपी पिता नीलेश जोशी अपने बेटे स्वयं की हत्या के बाद देश छोड़ने की योजना बना रहा था. 17 तारीख की देर रात शराब के नशे में धुत उसका बेटा स्वयं ने अपने पिता पर हमला कर दिया. जिसके बाद नीलेश जोशी ने उसके सिर पर हमला करके मौत के घाट उतार दिया था. घटना के अगले दिन नीलेश जोशी सुबह-सुबह कालूपुर मंदिर दर्शन के लिए गया और वहीं से इलेक्ट्रिक कटर और प्लास्टिक बैग खरीदा और घर आ गया. आरोपी पिता ने कबूल किया है कि उसने स्वयं के सिर, धड़ और हाथ-पैर को कटर से काटकर 18 तारीख को शहर के विभिन्न इलाकों में फेंक दिया था.

पिता को पुत्र की हत्या का कोई पछतावा नहीं

क्राइम ब्रांच ने हत्यारे पिता से हत्या से पूछताछ की तो उसने कहा कि बेटे की हत्या का कोई पछतावा नहीं है. बेटे ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी थी. जब वह शराब पीकर घर आता तो मेरी हत्या कर शरीर के टुकड़े-टुकड़े करने की धमकी देता था. इसलिए मैंने वही किया जो बेटा करना चाहता था. फिलहाल पुलिस मामला दर्ज कर आगे की कानूनी कार्रवाई कर रही है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/surat-neighbor-woman-rape/