Gujarat Exclusive > देश-विदेश > चीनी समकक्ष से विदेश मंत्री जयशंकर की 3 घंटों तक हुई बातचीत, LAC पर भी हुई चर्चा

चीनी समकक्ष से विदेश मंत्री जयशंकर की 3 घंटों तक हुई बातचीत, LAC पर भी हुई चर्चा

0
87

नई दिल्ली: विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने आज चीन के अपने समकक्ष वांग यी से मुलाकात की. इस दौरान दोनों के बीच पूर्वी लद्दाख विवाद और यूक्रेन संकट से पैदा हुई उथल-पुथल समेत विभिन्न मुद्दों पर व्यापक चर्चा हुई. बैठक के बाद विदेश मंत्री जयशंकर ने बताया कि मेरी बातचीत चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ अभी समाप्त हुई है. हमने लगभग 3 घंटे तक चर्चा की और खुले और स्पष्ट तरीके से एक व्यापक मूल एजेंडे को संबोधित किया. हमने अपने द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की जो अप्रैल 2020 से चीनी कार्रवाइयों के परिणामस्वरूप बाधित हुई.

बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि वर्तमान स्थिति को मैं एक ‘वर्क इन प्रोग्रेस’ कहूंगा. हालांकि यह धीमी गति से हो रहा है. इसे आगे ले जाने की आवश्यकता है क्योंकि डिसइंगेजमेंट के लिए (LAC पर) आवश्यक है. 1993-96 के समझौतों का उल्लंघन हुआ है जिसमें बड़ी संख्या में सैनिकों की मौजूदगी (LAC पर) है. इसको देखते हुए हमारे संबंध (वर्तमान में चीन के साथ) सामान्य नहीं हैं.

चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ बैठक के बाद भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ क्वाड बैठक पर कोई चर्चा नहीं हुई. लेकिन यूक्रेन पर हमने अपने-अपने दृष्टिकोणों और परिप्रेक्ष्य पर चर्चा की लेकिन सहमति व्यक्त की कि डिप्लोमसी और बातचीत को प्राथमिकता दी जानी चाहिए.

विदेश मंत्री जयशंकर ने आगे बताया कि मैंने चीन में पढ़ रहे भारतीय छात्रों की दुर्दशा को भी दृढ़ता से रखा, जिन्हें COVID प्रतिबंधों का हवाला देते हुए वापस जाने की अनुमति नहीं है. हमें उम्मीद है कि चीन भेदभाव रहित रुख अपनाएगा क्योंकि इसमें कई युवाओं का भविष्य शामिल है. चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने मुझे आश्वासन दिया कि वापस जाने के बाद इस मामले में संबंधित अधिकारियों से बात करेंगे.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/bengal-governor-rajasthan-assembly-address/