Gujarat Exclusive > राजनीति > नामांकन दाखिल करने के बाद बोले- शशि थरूर, खड़गे हमारी पार्टी के भीष्म पितामह हैं

नामांकन दाखिल करने के बाद बोले- शशि थरूर, खड़गे हमारी पार्टी के भीष्म पितामह हैं

0
180

दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद शशि थरूर ने दिल्ली में AICC कार्यालय में कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन दाखिल किया. उसके बाद उन्होंने कहा कि मैंने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया है जिसमें 50 लोगों ने मेरा समर्थन किया है. यह आंकड़ा 60 होगा क्योंकि एक और जगह से फॉर्म आ रहा है. नामांकन दाखिल करने के बाद थरूर ने दावा किया कि देश के 12 राज्यों के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हमारी मदद की है.

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव को लेकर नामांकन दाखिल करने के बाद कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मैं खड़गे साहब का बहुत सम्मान करता हूं. अगर कई लोग नामांकन दाखिल करेंगे तो अच्छी बात है और लोगों को भी विकल्प मिलेगा. मैंने किसी को नीचा दिखाने के लिए ऐसा नहीं किया है. हमें एक साथ काम करने की जरूरत है. मुझे लगता है कि वे हमारी पार्टी के भीष्म पितामह हैं.

तीन उम्मीदवार को बीच होगा मुकाबला

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव 17 अक्टूबर को होना है. आज नामांकन के आखिरी दिन शशि थरूर और मल्लिकार्जुन खड़गे ने नामांकन पत्र दाखिल किया. इन दोनों नेताओं के अलावा झारखंड कांग्रेस नेता केएन त्रिपाठी ने भी शुक्रवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. उन्होंने कहा कि मैंने आज पार्टी अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन दाखिल किया है. पार्टी नेताओं का जो भी निर्णय होगा उसका सम्मान करेंगे. भले ही मल्लिकार्जुन खड़गे का पल्ला भारी माना जा रहा हो, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए तीन उम्मीदवार होने के कारण मुकाबला अब त्रिकोणीय हो गया है.

भाजपा ने साधा निशाना

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव को लेकर हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने तंज कसते हुए कहा कि कुल मिलाकर ये(गांधी परिवार) यही चाहते हैं कि कोई भी सामने ना आए और आखिर में ये हमारे सिर पर ही जिम्मेदारी आए. ये सिर्फ लोगों को बताने के लिए है कि हम गांधी परिवार से अलग अध्यक्ष बनाना चाहते हैं. ये(कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव) कांग्रेस की अपनी लड़ाई है. हमें इससे कुछ लेना-देना नहीं है. हम तो बस इतना जानते हैं कि जो कुछ भी हो रहा है, ये बस नौटंकी करवा रहे हैं. राजस्थान के खेल के रचयिता यही(गांधी परिवार) हैं.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/kejriwal-two-day-visit-to-gujarat-begins-tomorrow/