Gujarat Exclusive > राजनीति > कांग्रेस को दुआ नहीं दवा की जरूरत, अभी उसका डॉक्टर कंपाउंडर है: गुलाम नबी आजाद

कांग्रेस को दुआ नहीं दवा की जरूरत, अभी उसका डॉक्टर कंपाउंडर है: गुलाम नबी आजाद

0
148

कांग्रेस के तमाम पदों से इस्तीफा देने के बाद जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद ने आज पहली बार मीडिया के सामने अपना बयान दिया. इस दौरान आजाद ने कांग्रेसी नेताओं पर जमकर हमला भी बोला. कांग्रेस की जम्मू-कश्मीर यूनिट के पूर्व अध्यक्ष जी ए मीर के मुताबिक आजाद के नेतृत्व में पार्टी छोड़ने वाले नेता बीजेपी की ‘ए-टीम’ का हिस्सा हैं. इतना ही नहीं मीर ने कहा कि गुलाम नबी का हश्र भी पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह जैसा ही होगा. अब इस तरीके के आरोपों पर गुलाम नबी आजाद ने पलटवार किया है.

पार्टी के तमाम पदों से इस्तीफा देने के बाद पहली बार मीडिया से सामने आए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि पहले वे (जयराम रमेश) अपना DNA चेक करवाएं कि कहां के हैं और किस पार्टी से हैं, वह देखें कि उनका DNA किस-किस पार्टी में रहा है. बाहर के लोगों को कांग्रेस का अता-पता नहीं है. चापलूसी और ट्विट कर जिन्हें पद मिले अगर वे आरोप लगाएं तो हमें दुख होता है.

पूर्व कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने एक बार फिर पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि मैं कांग्रेस के लिए दुआ ही कर सकता हूं लेकिन कांग्रेस मेरी दुआ से ठीक नहीं होगी उसके लिए दवा चाहिए. अभी उसका डॉक्टर कंपाउंडर है. अभी कांग्रेस को स्पेशलिस्ट की जरूरत है.

आपका रिमोट कंट्रोल भाजपा के हाथ में है’ इस सवाल का जवाब देते हुए गुलाम आजाद ने कहा कि घर वालों ने घर छोड़ने पर मजबूर किया और जहां घर वालों को लगे कि यह आदमी नहीं चाहिए तो अकलमंदी खुद घर छोड़ने में है…जो शख्स अपनी स्पीच खत्म करने के बाद भरी सदन में उनसे(PM से) गले मिले, तो वे मिले हैं या मैं मिला हूं?

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/delhi-vidhan-sabha-presents-a-motion-of-confidence/