Gujarat Exclusive > देश-विदेश > ज्ञानवापी केस में अदालत के फैसले पर बोलीं महबूबा, मस्जिदें गिराने में विश्व गुरू बन सकता है भारत

ज्ञानवापी केस में अदालत के फैसले पर बोलीं महबूबा, मस्जिदें गिराने में विश्व गुरू बन सकता है भारत

0
79

श्रीनगर: भाजपा ने जब से जम्मू-कश्मीर को मिले विशेष राज्य के दर्जा को खत्म किया है तब से जम्मू- कश्मीर की पूर्व मुख्मयंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती किसी न किसी बहाने भाजपा पर हमला बोलती रहती हैं. इस बार मुफ्ती ने ज्ञानवापी केस में अदालत के फैसले के बाद तंज कसते हुए कहा कि मस्जिदें गिराने में भारत विश्व गुरू बन सकता है.

श्रीनगर में मीडिया से बात करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि, मेरी राय में कोर्ट खुद अपने आदेश की अवहेलना कर रही है. चाहे वह मंदिर हो, मस्जिद हो या किसी अन्य धर्म का पूजा स्थल. संसद ने इसे लेकर कानून बनाया है लेकिन अब कोर्ट उसका पालन नहीं कर रही है.

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने ज्ञानवापी मामले में वाराणसी जिला अदालत के फैसले के बाद निराशा व्यक्त करते हुए कहा कि कोर्ट के ज्ञानवापी के निर्णय पर मुझे अफसोस है क्योंकि कोर्ट अपने फैसलों को नहीं मान रही जिसमें उन्होंने 1947 के बाद सारे धार्मिक जगहों की यथास्थिति को बनाए रखने के लिए कहा था. कोर्ट भाजपा के नरेटिव को आगे बढ़ा रही है.

महबूबा मुफ्ती ने आगे कहा कि भाजपा महत्वपूर्ण मुद्दे से लोगों का ध्यान भटकाना चाहती है. लोगों के लिए रोजगार नहीं है. लोग दिन-ब-दिन गरीब होते जा रहे हैं. महंगाई आसमान को छू रही है. केवल दो व्यवसायी अमीर हो रहे हैं और आम लोग हर दिन और ज्यादा परेशान होते जा रहे हैं. इसलिए बीजेपी हिंदू-मुस्लिम कार्ड खेलकर अपने इरादे में कामयाब होना चाहती है. वह मस्जिदों को तोड़ने में विश्वगुरु बनाना चाहते हैं. गौरतलब है कि फैसले के बाद भी महबूबा मुफ्ती ने अपने ट्विटर हैंडल से बीजेपी पर हमला बोला था.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/gujarat-rain-2-system-active/