Gujarat Exclusive > गुजरात > महात्मा गांधी के आश्रम की संचालिका बनी हिंसक, प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या

महात्मा गांधी के आश्रम की संचालिका बनी हिंसक, प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या

0
390

अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी के आश्रम की संचालिका हिंसक बनकर अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया. इतना ही नहीं हत्या को दुर्घटना में बदलने की कोशिश भी की गई. लेकिन जिला एसओजी की सतर्कता और गहन जांच से मौत के भेद को सुलझा लिया गया. ओलपाड के उमराछी गांव में गांधी आश्रम की संचालिका को अहमदाबाद से आने वाले अधिकारी से प्यार हो गया था. उसके बाद दोनों ने मिलकर पति की हत्या कर दी.

हत्या को दुर्घटना में बदलने की कोशिश

पूर्व सरपंच वीरेंद्र सिंह सेवानिया का 15 तारीख को ओलपाड तालुका के उमराछी गांव में निधन हो गया था. उनकी पत्नी के मुताबिक रात में पानी पीते समय सीढ़ियों से गिरकर उनकी मौत हो गई. पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पोस्टमार्टम कर अंतिम संस्कार कर दिया गया. लेकिन परिवार को उसकी पत्नी के व्यवहार में कुछ गड़बड़ी लगी और पुलिस को इसकी जानकारी दी. उसके बाद पुलिस ने शक के आधार पर मामले की नए सिरे से जांच शुरु कर यह खुलासा किया है.

ओलपाड के गांव उमराछी में गांधी आश्रम चलाने वाली डिंपल को अहमदाबाद से आश्रम घूमने आए राजस्थान के एक अधिकारी हेमंत उर्फ ​​पिंटू हशमुख शर्मा से प्यार हो गया था. घटना वाली रात प्रेमिका डिंपल सेवानिया ने अहमदाबाद से ब्वॉयफ्रेंड हेमंत उर्फ ​​पिंटू शर्मा को फोन कर घऱ बुलाया था. आधी रात को ​​पिंटू शर्मा ने मृतक वीरेंद्र सिंह सेवनिया के सिर में पेवर ब्लॉक से वार कर दिया और मौके से फरार हो गया था.

पत्नी डिंपल सेवानिया ने पुलिस को गुमराह करने के लिए खून के धब्बे साफ किए. साथ ही पत्थर को भी धोया, और पूरी घटना को हादसे में समेटने की कोशिश की, लेकिन पुलिस की गहन पड़ताल में पूरा मामला सामने आया. जिसके बाद पुलिस ने मृतक की पत्नी डिंपल सेवानिया और उसके प्रेमी हेमंत उर्फ ​​पिंटू शर्मा को अहमदाबाद से गिरफ्तार कर लिया है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/ahmedabad-rickshaw-minimum-fare-hike/