Gujarat Exclusive > देश-विदेश > लगातार दूसरे दिन बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, चुनाव खत्म होते ही शुरू हुई महंगाई की मार

लगातार दूसरे दिन बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, चुनाव खत्म होते ही शुरू हुई महंगाई की मार

0
420

दिवाली से पहले जब देश में चुनावी सीजन नहीं चल रहा था उन दिनों हर दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि दर्ज की जा रही थी. उस समय केंद्र सरकार दावा करती थी कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें अंतरराष्ट्रीय बाजार के अधीन हैं, इसलिए हम इसमें बदलाव नहीं कर सकते. हालांकि चुनावी सीजन शुरू होने के बाद कच्चा तेल अपने रिकॉर्ड स्तर को पार कर गया बावजूद इसके पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि नहीं की गई.

लेकिन अब रिजल्ट आ चुके है जिसकी वजह से पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने का सिलसिला शुरू हो चुका है और लगातार दूसरे दिन आज पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी देखी गई है. कल की तरह आज भी पेट्रोल के दाम में 80 पैसे बढ़े हैं और डीजल के दाम में 80 पैसे बढ़ाए गए हैं. मुंबई में पेट्रोल और डीज़ल की कीमतें 85 पैसे की बढ़ोतरी के साथ अब पेट्रोल प्रति लीटर 111.67 रुपये और डीजल 95.85 रुपये प्रति लीटर में बिक रहा है.

2017 में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में दैनिक बदलाव की शुरुआत के बाद पहली बार इतने लंबे समय तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ था. 4 नवंबर 2021 को एक लीटर डीजल पर उत्पाद शुल्क में 10 रुपये और एक लीटर पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में 5 रुपये की कमी की गई थी.

देश में हर दिन सुबह 6 बजे तेल की कीमतों में संशोधन किया जाता है. क्योंकि कच्चे तेल की कीमत और विनिमय दर के आधार पर देश में हर दिन पेट्रोल-डीजल की कीमत में बदलाव होता है. नई कीमत देश के हर पेट्रोल पंप पर रोजाना सुबह छह बजे से लागू की जाती है. प्रत्येक राज्य में स्थानीय वैट अलग होते हैं इसलिए ईंधन की कीमतें भी अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग हैं.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/bengal-birbhum-violence-endemic-migration/