Gujarat Exclusive > देश-विदेश > UNSC की बैठक में भारत यूक्रेन-रूस के बीच जैविक हथियार के इस्तेमाल पर जताई चिंता

UNSC की बैठक में भारत यूक्रेन-रूस के बीच जैविक हथियार के इस्तेमाल पर जताई चिंता

0
431

रूस और यूक्रेन के बीच जारी खून जंग का संकट हर गुजरते दिन के साथ गहराता जा रहा है. रूसी हमले की वजह से लाखों लोग यूक्रेन को छोड़ने को मजबूर हो गए हैं. वहीं, कई लोगों की इस जंग में जान चली गई है. यूक्रेन की स्थिति को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद भी लगातार आपातकालीन बैठक कर रही है.

युद्ध शुरू होने के बाद से ही रूस येक्रन पर जैविक हथियारों के इस्तेमाल का आरोप लगाता रहा है. शुक्रवार को UNSC ब्रीफिंग के दौरान, भारत के उप स्थायी प्रतिनिधि आर रवींद्र ने कहा कि भारत यूक्रेन में लगातार बिगड़ती स्थिति के बारे में चिंतित है. हम रूस और यूक्रेन के बीच राजनयिक वार्ता के नवीनतम दौर का स्वागत करते हैं. हमारा मानना ​​है कि शत्रुता को तत्काल समाप्त करना और बातचीत और कूटनीति के मार्ग पर लगन से आगे बढ़ना ही एकमात्र रास्ता है.

रूस “यूक्रेन में जैविक हथियारों” को लेकर संयुक्त राज्य अमेरिका के खिलाफ गंभीर आरोप लगाता रहा है, यूक्रेन पर यूएनएससी की बैठक में रूसी प्रतिनिधि ने एक बार फिर से कहा कि जैविक हथियारों के घटक यूक्रेनी क्षेत्र में बनाए गए थे, हमारे रक्षा मंत्रालय को यूक्रेन के क्षेत्र में पेंटागन द्वारा की गई गैरकानूनी गतिविधियों के बारे में अधिक सामग्री प्राप्त हो रही है.

इंटरनेशनल कोर्ट ने रूस को यूक्रेन पर फौरन हमला रोकने का दिया आदेश

यूक्रेन पर रूसी सैनिकों का हमला जारी है इस बीच इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस ने रूस से यूक्रेन में अपने सैन्य अभियान को फौरन रोकने का आदेश दिया है. वोटिंग के बाद ICJ के अध्यक्ष जोआन ई डोनोग्यू ने यह फैसला सुनाया, वोटिंग के दौरान 13 देश इस पक्ष में रहे कि रूस को यूक्रेन पर जारी आक्रमण को फौरन रोक देना चाहिए. जबकि दो देशों ने इंटरनेशनल कोर्ट में रूस के पक्ष में मतदान किया.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/india-corona-update-news-323/