Gujarat Exclusive > देश-विदेश > उत्तर प्रदेश में फेस मास्क की वापसी, कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से सरकार सख्त

उत्तर प्रदेश में फेस मास्क की वापसी, कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से सरकार सख्त

0
199

देश में कोरोना के नए मामलों में लगातार कमी दर्ज होने के बाद देश की राजधानी दिल्ली और बड़े राज्यों महाराष्ट्र, तेलंगाना और पश्चिम बंगाल से सभी कोरोना प्रतिबंध हटा दिए गए थे. इतना ही नहीं दिल्ली, महाराष्ट्र, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश की सरकारों ने कोरोना से बचने के लिए मास्क पहनने से राहत देने का ऐलान किया था. लेकिन अब कोरोना के नए मामलों में वृद्धि के बाद मास्क फिर अनिवार्य हो गया है.

उत्तर प्रदेश की सीमा से लगे कुछ राज्यों में कोरोना के नए केस में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. इसे ध्यान में रखते हुए सीएम योगी ने गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ, बुलंदशहर, बागपत और लखनऊ में सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है.

कोरोना के दैनिक मामलों में कमी दर्ज होने के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इसी माह की शुरुआत में फेस मास्क पहनने में छूट दी थी. लेकिन अब कई जिलों में फेस मास्क को अनिवार्य कर दिया गया है. राजधानी लखनऊ और एनसीआर के 6 जिलों में सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है.

देश में कोरोना की स्थिति

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार बीते 24 घंटों में 2,183 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. वहीं इस दौरान 214 कोरोना संक्रमितों की मौत दर्ज की गई. आज दर्ज होने वाले नए मामलों के बाद देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4 करोड़ 30 लाख 44 हजार के पार पहुंच गई है. जबकि मृतकों की संख्या बढ़कर 5 लाख 21 हजार 965 हो गई है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/delhi-violence-police-commissioner-clarified/