Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में जहरीली शराब पीने से अब तक 20 की मौत, 32 गंभीर रूप से प्रभावित

गुजरात में जहरीली शराब पीने से अब तक 20 की मौत, 32 गंभीर रूप से प्रभावित

0
267

अहमदाबाद: बोटाद और अहमदाबाद जिलों में कथित लठ्ठा कांड में कुल 20 लोग मारे गए हैं. जबकि गंभीर रूप से प्रभावित 32 लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है. सभी मरीजों का इलाज भावनगर अस्पताल में चल रहा है. 4 जिलों की पुलिस जहरीली शराब मामले की चांज कर रही है. अहमदाबाद, भावनगर, बोटाद और अमरेली जिलों की पुलिस की मदद ली जा रही है. कथित लठ्ठा कांड मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है.

बोटाद और अहमदाबाद जिला में जहरीली शराब पीने से कुल 20 लोग मारे गए हैं. बरवाला तालुका के रोजिद गांव के 6 लोगों की मौत हुई है. इसके अलावा उंचड़ी, चंदरवाना में 2-2 लोगों की मौत हुई है. वहीं धंधुका के आकरु और अनियाली गांव के 3-3 लोगों की मौत हुई है. राणपुर तालुक के देवगना गांव में 2 लोगों की मौत हो गई है. जबकि कुल 32 लोगों का इलाज चल रहा है. इनमें से 4 की हालत अभी भी बेहद नाजुक बनी हुई है.

भावनगर रेंज के आईजी ने बताया कि घटना के बाद पुलिस हरकत में आ गई है. भावनगर रेंज के आईजी ने उपाधीक्षक की अध्यक्षता में एसआईटी का गठन किया है. पुलिस ने शराब तस्करों को पकड़ने के लिए अलग-अलग टीमें भी तैयार की हैं. वहीं एटीएस के अधिकारी भी घटना की जांच में जुट गए हैं.

एटीएस के डीआईजी दीपेन भद्रन, एसपी सुनील जोशी समेत पूरी टीम बरवाला पहुंच गई है. एटीएस पूरे मामले की गहनता से जांच करेगी. इस बीच बोटाद की लठ्ठा कांड मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. गुजरात पुलिस ने कुल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों को अहमदाबाद और बोटाद से राउंड अप किया गया है. अहमदाबाद से केमिकल भेजने वाले और बेचने वालों को पुलिस ने राउंड अप किया है. केमिकल में पानी और एल्कोहल मिलाकर बेचा जाता था.

सूत्रों के मुताबिक शराब बनाने में मेथनॉल का इस्तेमाल किया जाता था. मेथनॉल अहमदाबाद की एक फैक्ट्री से लाया गया था. बरवाला तालुक के चोकड़ी गांव में शराब बनाई जाती थी. यह शराब चोकड़ी गांव के पिंटू गोरवा नाम के एक तस्कर ने बनाई थी. लठ्ठा कांड का मुख्य आरोपी पिंटू गोरवा पुलिस की गिरफ्त में आ गया है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/sonia-gandhi-ed-questioning-rahul-gandhi-dharna/