Gujarat Exclusive > राजनीति > मणिपुर में JDU के 5 विधायक BJP में शामिल, CM नीतीश का सवाल- क्या यह संवैधानिक है?

मणिपुर में JDU के 5 विधायक BJP में शामिल, CM नीतीश का सवाल- क्या यह संवैधानिक है?

0
110

पटनाः मणिपुर में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाईटेड को भाजपा ने बड़ा झटका दिया है. शुक्रवार को पार्टी के 5 विधायकों ने सत्ताधारी पार्टी का दामन थाम लिया. अब मामले को लेकर नेताओं की प्रतिक्रिया आने लगी है. सीएम नीतीश कुमार ने इस मामले को लेकर कहा कि जब हम NDA से अलग हुए तो मणिपुर के हमारे सभी 6 विधायक आए, हमसे मिले और हमें आश्वासन दिया कि वे JDU के साथ हैं. हमें यह सोचने की जरूरत है कि क्या हो रहा है. वे विधायकों को पार्टियों से तोड़ रहे हैं, क्या यह संवैधानिक है? विपक्ष 2024 के चुनाव के लिए एकजुट होगा.

मणिपुर में JDU के 5 विधायकों के BJP में शामिल होने पर JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह ने कहा कि आप(भाजपा) तो धन-बल का प्रयोग कर रहे हैं. महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में आपने क्या किया, ये देश देख रहा है. वो हमारी चिंता छोड़ दे और खुद की चिंता करे. 2024 में जुमलेबाज विदा होंगे.

इस मामले को लेकर जेडीयू के राष्ट्रीय संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि BJP का ये रवैया पुराना है, वे बिहार में कुछ नहीं कर पाएंगे. वे पहले से रोज नीतीश कुमार को डैमेज करने की कोशिश कर रहे थे. विपक्ष की एकता को बनाने में नीतीश कुमार का बड़ा रोल है. हम लगातार कह रहे हैं कि BJP हमारी पार्टी को बर्बाद करने में पहले से लगी हुई है. NDA में रहते हुए हम यह महसूस करते थे और आज यह बात साबित हो रही है.

वहीं इस मामले को लेकर जेडीयू नेताओं पर पलटवार करते हुए भाजपा के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि ललन जी जो आरोप लगा रहे हैं कि पैसा देखर खरीदा गया है, तो आपके विधायक इतने कमजोर हैं क्या? ये सब गलत बात है. हम किसी को पैसा देकर क्यों खरीदेंगे. वो चाहते थे कि जनता दल(यूनाइटेड) NDA में रहे और आपने NDA से नाता तोड़ा इसलिए वे BJP में शामिल हो गए. मोदी ने आगे कहा कि आपका(JDU) राष्ट्रीय पार्टी बनने का जो सपना था वो पूरा नहीं हो सकता क्योंकि आप 3 राज्यों से घटकर अब केवल बिहार में ही रह गए हैं. आपने बिहार में जो गठबंधन तोड़ा, ये उसकी प्रतिक्रिया है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/big-claim-of-cji-uu-lalit/