Gujarat Exclusive > गुजरात > पूर्वी अहमदाबाद में चलने वाले फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 8 आरोपी गिरफ्तार

पूर्वी अहमदाबाद में चलने वाले फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 8 आरोपी गिरफ्तार

0
569

अहमदाबाद: शहर के पूर्वी हिस्से में चलने वाले फर्जी कॉल सेंटर का पुलिस ने छापेमारी कर भंडाफोड़ किया है. दानीलिमड़ा में रहने वाला एक युवक को अवैध कॉल सेंटर चलाकर और अमेरिकी नागरिकों को ऋण देने और अपने स्कोर अंक बढ़ाने के लिए लुभाने के लिए टेक्सनो एप्लिकेशन का उपयोग करके धोखाधड़ी करते हुए पकड़ा गया है. आरोपियों से पूछताछ में राजस्थान तक के नेटवर्क का खुलासा हुआ है.

मुख्य आरोपी को पकड़ने के बाद दानीलिमडा पुलिस ने राजस्थान जाकर सात लोगों को गिरफ्तार किया है. दानीलिमडा पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि दुर्गेश नाम का युवक बैरल मार्केट के पास अजानपार्क में अवैध कॉल सेंटर चला रहा है और अमेरिकी नागरिकों को ठग रहा है. पुलिस ने छापेमारी कर दुर्गेश चुनारा को गिरफ्तार कर उसका मोबाइल व लैपटॉप जब्त कर लिया था.

आरोपी टैक्स नाउ नामक एक एप्लिकेशन का उपयोग कर अमेरिकी नागरिकों को कॉल करता था. एप्लिकेशन की वजह से डिस्प्ले पर अमेरिकी नंबर दिखाता था. वह लोगों को लोन देने के बहाने अपने जाल में फंसाता था. उसके बाद आरोपी अमेरिकी नागरिकों को उपहार कार्ड खरीदने के लिए कहता था ताकि उनका 700 अंक पूरा हो जाए. कॉल सेंटर का संचालन राजस्थान के राजसमंद से होता था. इसलिए दानीलिमडा पुलिस ने राजस्थान से मनोज शर्मा, विवेक शर्मा, दुर्गेश राठौर, अंकित चौहान, विशाल दुबे, मुकेश कौरी, दीपक मिश्रा को गिरफ्तार किया है.

अमेरिकी नागरिकों का डाटा हरियाणा से मिलता था

हरियाणा के गुंडगांव में एक निजी कंपनी द्वारा आरोपी को अमेरिकी नागरिकों की जानकारी फोन नंबर के साथ दी जाती थी. पुलिस सूत्रों ने बताया कि कंपनी आरोपियों को डाटा उपलब्ध कराकर कमीशन कमाती थी. फिलहाल पुलिस मामला दर्ज कर आगे की कानूनी कार्रवाई कर रही है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/gujarat-movie-pushpa-style-smuggling/