Gujarat Exclusive > देश-विदेश > ताइवान के साथ अमेरिका की एकजुटता महत्वपूर्ण, हम यही संदेश लेकर आए हैं: अमेरिकी स्पीकर

ताइवान के साथ अमेरिका की एकजुटता महत्वपूर्ण, हम यही संदेश लेकर आए हैं: अमेरिकी स्पीकर

0
111

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी के ताइवान पहुंचने से चीन बुरी तरह भड़क उठा है. वह लगातार चेतावनी दे रहा है. इतना ही नहीं चीन के 21 सैन्य विमान ताइवान के एयर स्पेस में घुस गए. इस बीच नैन्सी पेलोसी ने ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग वेन से मुलाकात की और ताइवान में लोकतंत्र का समर्थन करते हुए कहा दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंधों को बढ़ाने की वकालत की है.

मुलाकात के बाद साझा बयान जारी करते हुए अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष ने कहा कि ताइवान में लोकतंत्र फल-फूल रहा है. ताइवान ने दुनिया को साबित किया है कि चुनौतियों के बावजूद अगर आशा, साहस और दृढ़ संकल्प है तो आप समृद्ध भविष्य का निर्माण कर सकते हैं. ताइवान के साथ अमेरिका की एकजुटता महत्वपूर्ण है. आज हम यही संदेश लेकर आए हैं.

उन्होंने आगे कहा कि अमेरिका ने हमेशा ताइवान के साथ खड़े रहने का वादा किया है. इस मजबूत नींव पर, हमारी आर्थिक समृद्धि के लिए प्रतिबद्ध क्षेत्र और दुनिया में पारस्परिक सुरक्षा पर केंद्रित स्व-सरकार और आत्मनिर्णय पर आधारित एक संपन्न साझेदारी है.

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी से मुलाकात करने के बाद ताइवान की राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने कहा कि हम अपने देश की संप्रभुता को मजबूती से बनाए रखेंगे और रक्षा रेखा को बनाए रखेंगे. साथ ही, हम लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए दुनिया भर के सभी लोकतंत्रों के साथ सहयोग और एकता के साथ काम करना चाहते हैं. हम ताइवान स्ट्रेट में शांति और स्थिरता बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है. ताइवान एक स्वतंत्र और खुले इंडो-पैसिफिक को सुनिश्चित करने के लिए क्षेत्रीय सुरक्षा तौर पर एक प्रमुख स्थिर शक्ति बना सकता है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/us-speaker-visits-taiwan/