Gujarat Exclusive > गुजरात > विसनगर के 24 गांवों में BJP की नो एंट्री, विपुल चौधरी की रिहाई की मांग को लेकर महासम्मेलन

विसनगर के 24 गांवों में BJP की नो एंट्री, विपुल चौधरी की रिहाई की मांग को लेकर महासम्मेलन

0
71

गांधीनगर: गुजरात में पूर्व गृह मंत्री विपुल चौधरी को एसीबी ने गिरफ्तार किया है. विपुल चौधरी और उनके निजी सचिव के खिलाफ डेयरी के पैसे की हेराफेरी करने की शिकायत दर्ज की गई थी. विपुल चौधरी की गिरफ्तारी के बाद उत्तर गुजरात के आंजणा चौधरी समुदाय में आक्रोश है. मेहसाणा के विसनगर तालुका के 24 से अधिक गांवों के लोगों ने भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. गांव में भाजपा नेताओं के प्रवेश पर रोक लगा दी है.

अर्बुदा सेना ने विसनगर के गांवों में बीजेपी को सार्वजनिक नोटिस जारी किया है. आजंणा चौधरी समाज ने मेहसाणा जिला के विसनगर तालुका में विभिन्न जगहों पर बैनर लगाकर अपनी नाराजगी व्यक्त की है. जिसमें लिखा गया है कि हम अर्बुदा सेना के गुजरात प्रदेश अध्यक्ष विपुल चौधरी की झूठी गिरफ्तारी की निंदा करते हैं, और सभी भाजपा नेताओं, मंत्रियों, को तब तक गांव में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी जब तक कि हमारे नेता मुक्त नहीं हो जाते हैं.

विसनगर में आंजणा चौधरी समाज ने विपुल चौधरी की गिरफ्तारी का विरोध किया है और गांव में बैनर लगाए हैं. विसनगर तालुक के बासणा, तित्रोडीपुरा, मेघा अलियासणा, गुंजाणा, तरभ, पालड़ी, गुंजा, उदलपुर, बाकरपुर, रंगाकुंई सहित 24 गांवों ने भाजपा के प्रवेश प्रतिबंध के बैनर लगाए गए हैं.

गुंजा गांव के आंजणा चौधरी समुदाय के लोगों ने कहा कि हमारे विपुल भाई ने कोई अपराध नहीं किया है, उनको फर्जी मामले गिरफ्तार कर जेल में बंद कर दिया गया है. हम उनको हर संभव तरीके से रिहा कराएंगे. कोई भी भाजपा नेता गांव में प्रवेश न करे, फिर भी अगर कोई आता है तो वह आने वाले की जिम्मेदारी होगी.

विसनगर के बासणा गांव के अर्बुदा धाम में सद्भावना यज्ञ और महासम्मेलन का आयोजन किया गया है. इस महासम्मेलन में 50 हजार से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने की संभावना है. इस यज्ञ में विपुल चौधरी को जेल से रिहा कराने का संकल्प लिया जाएगा.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/teesta-setalvad-sit-chargesheet-file/