Gujarat Exclusive > गुजरात > 28-29 मार्च को बैंक कर्मचारियों की हड़ताल, गुजरात में 25 हजार करोड़ के लेन-देन पर पड़ेगा असर

28-29 मार्च को बैंक कर्मचारियों की हड़ताल, गुजरात में 25 हजार करोड़ के लेन-देन पर पड़ेगा असर

0
486

अहमदाबाद: अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ द्वारा 28 और 29 मार्च, 2022 को देशव्यापी हड़ताल की घोषणा की गई है. सरकार की सार्वजनिक क्षेत्र विरोधी नीतियों के खिलाफ 2 दिनों के दौरान बैंक कर्मचारी राष्ट्रीय आम हड़ताल में शामिल होंगे. गुजरात में अनुमानित 40,000 बैंक कर्मचारी हड़ताल में शामिल होंगे. बैंकों की हड़ताल से अकेले गुजरात में 25,000 करोड़ रुपये का लेनदेन प्रभावित होगा.

अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ, केंद्रीय ट्रेड यूनियन, अन्य स्वतंत्र संघ एक संयुक्त मंच से राष्ट्रीय आम हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है. बैंक कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर हड़ताल में शामिल होंगे. बैंक कर्मचारियों की मांग है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को मजबूत किया जाए, बैंकों का निजीकरण रोका जाए, बैड लोन वसूलने की शुरूआत, आउटसोर्सिंग बंद करो- भर्ती शुरू करो, सभी अनुबंध कर्मचारियों को नियमित करो जैसी मांग को लेकर हड़ताल पर उतरने का फैसला किया है.

बैंक कर्मचारियों ने नई पेंशन योजना को बंद करने और डीए से जुड़ी पेंशन योजना शुरू करने की मांग की है. निजीकरण को सुविधाजनक बनाने और ऋण-मार्ग के माध्यम से बैंक फंड की चोरी को वैध बनाने और आगे संशोधन की अनुमति देने की माग की है.

गुजरात भर में महागुजरात बैंक कर्मचारी संघ के सदस्य 28 और 29 मार्च 2022 को हड़ताल में शामिल होंगे. गुजरात में कुल 3665 राष्ट्रीयकृत बैंक शाखाएं हड़ताल से प्रभावित होंगी. गुजरात में कुल 40,000 बैंक कर्मचारी हड़ताल में हिस्सा लेंगे. कुल 25,000 करोड़ रुपये के लेनदेन क्लियरिंग, कैश, ट्रांसफर, एनईएफटी, आरटीजीएस पर असर पड़ने की उम्मीद जताई जा रही है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/president-kovind-gujarat-assembly-address/