Gujarat Exclusive > देश-विदेश > लखीमपुर खीरी हादसा नहीं, किसानों को मारने की थी सुनियोजित साजिश: SIT

लखीमपुर खीरी हादसा नहीं, किसानों को मारने की थी सुनियोजित साजिश: SIT

0
632

नई दिल्ली: लखीमपुर खीरी कांड में किसानों पर हमला एक साजिश का हिस्सा था. स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने यह जानकारी दी है. केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा इस मामले में मुख्य आरोपी हैं.

मामले की जांच कर रही पुलिस टीम ने जज को पत्र लिखकर आशीष मिश्रा पर लगे आरोपों में सुधार की मांग की है. आशीष मिश्रा और अन्य पहले से ही इस मामले में हत्या और साजिश के आरोपों का सामना कर रहे हैं. विशेष जांच दल हत्या के प्रयास और अन्य आरोपों को आरोपियों से जोड़ना चाहता है.

इससे पहले फॉरेंसिक लैब की रिपोर्ट में फायरिंग को लेकर बड़ा खुलासा हुआ था. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा और उनके करीबी अंकित दास के पास लाइसेंसी गन की बैलिस्टिक रिपोर्ट में फायिरंग होने का उल्लेख सामने आया था. लखीमपुर पुलिस ने इसकी जांच के लिए अंकित दास की रिपीटर गन, पिस्टल और आशीष मिश्रा की राइफल और रिवॉल्वर जब्त कर चारों हथियारों की एफएसएल रिपोर्ट मांगी थी. रिपोर्ट में फायरिंग की पुष्टि हुई थी.

क्या है पूरी घटना?

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने शनिवार रात केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया था. आशीष पर यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के कार्यक्रम का विरोध कर रहे किसानों को कुचलने वाली एक गाड़ी में सवार होने का आरोप है. हादसे में चार किसान सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/surat-omicron-variant-entry/