Gujarat Exclusive > राजनीति > फ्लोर टेस्ट से पहले स्पीकर विजय सिन्हा का इस्तीफा, कहा- मेरी कार्यशैली को अलोकतांत्रिक और तानाशाह जैसा बताया गया

फ्लोर टेस्ट से पहले स्पीकर विजय सिन्हा का इस्तीफा, कहा- मेरी कार्यशैली को अलोकतांत्रिक और तानाशाह जैसा बताया गया

0
112

बिहार विधानसभा में नीतीश सरकार के बहुमत साबित करने से पहले ही स्पीकर विजय सिन्हा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. इस्तीफा देने के साथ ही विजय सिन्हा ने कहा कि मैं आपको बताना चाहता हूं कि आपका अविश्वास प्रस्ताव अस्पष्ट है. 9 माननीय सदस्यों का जो पत्र मिला उसमें से 8 नियम के मुताबिक नहीं थे. विजय कुमार सिन्हा ने बिहार विधानसभा के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद कहा कि कुछ लोग मेरी कार्यशैली को अलोकतांत्रिक और तानाशाह जैसा बता रहे हैं.

अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस जो सभा सचिवालय को दिया गया उसमें नियम और संसदीय शिष्टाचार के अस्पष्ट रूप में अनदेखी की गई है. नोटिस में कुछ निराधार आरोप लगाए गए हैं, कुछ माननीय सदस्यों ने तर्क के बिना मेरी कार्यशैली को अलोकतांत्रिक और तानाशाह जैसा बताया है. जब विधानसभा के अध्यक्ष के रूप में मेरे विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाया गया तब मैंने अपने ऊपर विश्वास की कमी के रूप में नहीं देखा. बल्कि आसन के प्रति अविश्वास के रूप में देखा.

इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि इन तथ्यहीन आरोपों के बीच यदि मैं त्याग पत्र देता हूं तो यह न केवल व्यक्तिगत निष्ठा और आत्मसम्मान के विरुद्ध होगा. अत: मैं बिहार विधानसभा अध्यक्ष के रूप में मेरे विरुद्ध लगाए गए अविश्वास प्रस्ताव का प्रतिकार करते हुए मैं इस्तीफा नहीं दूंगा.

गौरतलब है कि विधानसभा की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है. दो बजे के बाद नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली महागठबंधन सरकार अपना बहुमत साबित करना होगा. संख्या बल के हिसाब से नीतीश सरकार को बहुमत साबित करने में कोई दिक्कत नहीं होगी.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/india-corona-update-news-444/