Gujarat Exclusive > देश-विदेश > बिहार जहरीली शराब मामला: एक्शन मोड में प्रशासन, 50 से ज्यादा जगहों पर की गई छापेमारी

बिहार जहरीली शराब मामला: एक्शन मोड में प्रशासन, 50 से ज्यादा जगहों पर की गई छापेमारी

0
664

बिहार में जहरीली शराब पीने से अबतक 31 लोगों की मौत हो चुकी और कईयों के आंखों की रोशनी चल गई है. दिवाली के दिन बिहार के गोपालगंज और बेतिया में जहरीली शराब पीने से 31 लोगों की मौत हो गई है. मामला सामने आने के बाद गोपालगंज प्रशासन एक्शन मोड में आ गया है. गोपालगंज के SP आनंद कुमार ने बताया कि पिछले 24 घंटों से ज़िले में शराब के विरुद्ध अभियान चलाया जा रहा है, 50 से ज़्यादा जगहों पर छापा मारा गया है जिसमें 19 लोगों को गिरफ़्तार किया गया और 270 लीटर देशी शराब बरामद हुआ तथा 6 वाहनों को जब़्त किया गया है.

ज़हरीली शराब पीने से हुई मौत पर गोपालगंज के SP आनंद कुमार ने बताया कि मामले की जांच में अगर किसी भी पुलिस की लापरवाही सामने आएगी तो हम उसके ख़िलाफ़ कार्रवाई करेंगे. अभी तक 3 लोग की गिरफ़्तारी हुई है और इसमें जितने लोग शामिल है उन्हें हम जल्द ही गिरफ़्तार कर लेंगे.

ज़हरीली शराब पीने से हुई मौतों पर गोपालगंज के ज़िलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी ने कहा कि कुल 11 लोगों की मौतें हुई हैं और मामले में कुल 3 लोग गिरफ़्तार हुए हैं. पूरे ज़िले के लगभग 50 जगहों पर छापा मारा गया है जिसमें हमें कई कामयाबी मिली है.

गोपालगंज के ज़िलाधिकारी ने आगे जानकारी देते हुए कहा कि अभी तक जो तथ्य समाने आए हैं उससे पता चलता है कि स्प्रिट से शराब बनाने का प्रयास किया गया. FSL रिपोर्ट आने के बाद हम पुख्ता बता सकते हैं, लोगों के बयान के आधार पर मौतें ज़हरीली शराब से हुई हैं, इसकी आधिकारिक तौर पर अभी पुष्टि नहीं की जा सकती है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/gujarat-government-student-big-gift/