Gujarat Exclusive > देश-विदेश > चीन का एक कदम… खतरे में दुनिया! ताइवान की 6 तरफ से नाकेबंदी

चीन का एक कदम… खतरे में दुनिया! ताइवान की 6 तरफ से नाकेबंदी

0
225

अमेरिकी सीनेट की स्पीकर नैंसी पेलोसी की यात्रा के बाद चीन और ताइवान के बीच तनाव का माहौल है. ताइवान को डराने के लिए कई घातक चीनी युद्धपोत, लड़ाकू जेट, बमवर्षक मिसाइल तैयार हैं. चीनी सेना आज से 7 तारीख तक ताइवान के आसपास बड़े पैमाने पर अभ्यास करने जा रही है. चीन ने इलाके से गुजरने वाले सभी यात्री विमानों को रोक दिया है. इतना ही नहीं, चीनी नौसेना मुख्य भूमि ताइवान से सिर्फ 9 समुद्री मील की दूरी पर अभ्यास करने जा रही है. इससे ताइवान के मुख्य बंदरगाहों को खतरा है. चीन के इस कदम से दुनिया स्तब्ध है और उस पर एक और यूक्रेन संकट का खतरा मंडरा रहा है.

चीन ने दुनिया को अपनी ताकत दिखाने के लिए बुधवार को अपने 27 लड़ाकू विमानों को ताइवान के हवाई क्षेत्र में भेजा था. ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि 22 चीनी युद्धक विमानों ने केंद्रीय रेखा, दोनों के बीच अघोषित सीमा को पार कर लिया है. चीन ने नैंसी पेलोसी के दौरे के विरोध में बुधवार को सैन्य अभ्यास शुरू किया है. चीन ताइवान के आसपास 6 जगहों से हवाई और समुद्री अभ्यास करने जा रहा है.

ताइवान से महज 22 किमी दूरी पर अभ्यास करने जा रहा है चीन

जानकारों का कहना है कि चीन द्वारा ताइवान की नाकेबंदी उसे दुनिया के बाकी हिस्सों से अलग-थलग करने के लिए की गई है. ताइवान एक द्वीप है और वे केवल समुद्र और हवाई मार्ग से ही दुनिया से जुड़ा हुआ है. दुनिया भर में समुद्री विमानों और यात्री विमानों को क्षेत्र से बचने की चेतावनी दी गई है. चीन उन जगहों पर अभ्यास करने जा रहा है जो ताइवान का समुद्री क्षेत्र है. चीन ताइवान से महज 22 किमी दूर अभ्यास करने जा रहा है. अमेरिकी नौसेना विशेषज्ञ कार्ल शूस्टर ने कहा कि चीन अब उन जगहों पर जा रहा है जहां वह पहले कभी नहीं गया. चीन अपने घातक हथियारों को ताइवान के तट पर ले जा रहा है.

इस बात की भी आशंका है कि चीन ताइवान के ऊपर अपने फाइटर जेट उड़ा सकता है. इसी वजह से ताइवान की सेना भी पूरी तरह से अलर्ट पर है और अमेरिका ने ताइवान के आसपास अपने विध्वंसक युद्धपोतों को भी तैनात कर दिया है. कहा जा रहा है कि चीन ताइवान के पास अपनी खुद की हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण भी कर सकता है. हाइपरसोनिक मिसाइलों से लैस एक घातक चीनी युद्धपोत ताइवान के पास देखा गया है. अमेरिका के पास अभी भी इस मिसाइल का कट नहीं है. चीन के इस कदम से दुनिया में खौफ का माहौल पैदा हो गया है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/delhi-police-manoj-tiwari-cut-41-thousand-challan/