Gujarat Exclusive > देश-विदेश > केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने कोयला संकट के लिए राज्यों को ठहराया जिम्मेदार

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने कोयला संकट के लिए राज्यों को ठहराया जिम्मेदार

0
370

देश में इन दिनों भयंकर गर्मी के बीच कई राज्य कोयला संकट से जूझ रहे हैं. जिसकी वजह से बीते दिनों कुछ ट्रेनों को भी रद्द कर दिया गया था. इस बीच केंद्रीय ऊर्जा मंत्री का बड़ा बयान सामने आया है. केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने झारखंड और राजस्थान की सरकार को मौजूदा संकट के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए अपना पल्ला झाड़ लिया है.

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि झारखंड की राजमहल कोल खदान में भी जब कोयला संकट आया तब हमारे कोयला मंत्री कितनी ही बार झारखंड गए थे. उन पर DVC का हजारों करोड़ का कर्ज़ है. बिजली मुफ्त नहीं है, अगर आप उन्हें भुगतान नहीं करेंगे तो वे आपको बिजली कैसे देंगे?.

इसके अलावा केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने आगे कहा कि राजस्थान की कोयले की समस्या उनकी खुद की बनाई हुई है. उनको कैप्टिव कोल खदानें दी गई हैं जिसकी कुल क्षमता 27 मिलियन टन हैं और यह कैप्टिव कोल खदानें छत्तीसगढ़ में हैं जहां कांग्रेस की सरकार है.

BPSC पेपर लीक मामले को लेकर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. लाखों बच्चे साल-साल भर तैयारी करते हैं और जब ऐसी घटना होती हैं तब इन लाखों बच्चों की आशाओं को झकझोर कर रख देती है. BPSC के अध्यक्ष को सुनिश्चि करना चाहिए की ऐसी घटना आगे न हो.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/sedition-law-central-government-supreme-court-affidavit/