Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दीवाली पर हुई आतिशबाजी ने घोल दिया दिल्ली की हवा में जहर, राजनीतिक बयानबाजी शुरू

दीवाली पर हुई आतिशबाजी ने घोल दिया दिल्ली की हवा में जहर, राजनीतिक बयानबाजी शुरू

0
527

नई दिल्ली: वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली के मुताबिक दिल्ली में हवा की वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में बनी हुई है. वायु गुणवत्ता सूचकांक स्तर 533 पर है. दीवाली के दूसरे दिन भी दिल्ली में वायु प्रदूषण से राहत नहीं मिल रही है. पटाखों पर पाबंदी की धज्जियां उड़ाते हुए दिवाली मनाए जाने के दो दिन बाद भी दिल्ली धुंध और धुएं से भरा हुआ है. आतिशबाजी के बाद दिल्ली की खराब हुई वायु गुणवत्ता को लेकर सियासत भी तेज हो गई है.

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा कि दिल्ली में पिछले तीन दिनों से प्रदूषण का स्तर बढ़ा है. इसके पीछे दो कारण है, एक तेजी से पराली जलने की घटनाएं बढ़ी हैं. 3,500 जगहों पर पराली जलने की घटनाएं हो रही हैं. कुछ लोगों ने दीपावली पर जानबूझकर पटाखे जलाए जिसके कारण भी AQI स्तर बढ़ा है.

इसके अलावा दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा के नेताओं ने हर समय बयान दिए कि पटाखे जलाने से कुछ नहीं होता है, यह धर्म और त्योहार का मामला है. अब सभी वैज्ञानिक कह रहे हैं कि पटाखों से प्रदूषण होता है. दो दिन पहले हवा की जो गुणवत्ता थी, वह आज नहीं है.

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री के बयान पर भाजपा नेता नवीन कुमार जिंदल ने पलटवार करते हुए कहा कि दीवाली किसी राजनीतिक पार्टी का त्योहार नहीं बल्कि हिंदुओं का त्योहार है. जिंदल ने सवाल करते हुए कहा कि क्या आम आदमी पार्टी से जुड़े हिंदुओं को अपने त्योहार मनाने की भी अनुमति नहीं है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/bihar-poisonous-liquor-case-police-raid/