Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्ली एमसीडी एकीकरण विधेयक पर भड़का विपक्ष, कहा- कश्मीर की तरह देर से होगा चुनाव

दिल्ली एमसीडी एकीकरण विधेयक पर भड़का विपक्ष, कहा- कश्मीर की तरह देर से होगा चुनाव

0
314

नई दिल्ली: विपक्ष के हंगामे के बीच लोकसभा में दिल्ली नगर निगम (संशोधन) विधेयक 2022 पारित हो गया. बिल पर चर्चा के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि तीनों निगमों के 10 साल तक अलग-अलग होकर परिचालित होने के बाद यह पता चला है कि तीनों में नीतियों को लेकर एकरूपता नहीं है. सदन में अमित शाह ने दावा करते हुए कहा कि विभाजन के समय संसाधनों और दायित्वों का विभाजन सोच-विचार कर नहीं किया गया था.

दिल्ली नगर निगम(संशोधन) विधेयक 2022 पर लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि पहले 272 वार्ड थे उन्हें घटाकर 250 कर दिया. संख्या घटेगी तो डिलिमिटेशन की बात आएगी और देर होगी जैसे कश्मीर में चल रहा है. 2017 चुनाव से पहले डिलिमिटेशन की बात आई थी और 18 महीने निकल गए. इस बार कितने महीने निकालेंगे.

लोकसभा में दिल्ली MCD एकीकरण बिल पारित होने पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि भाजपा को यह याद रखना चाहिए कि 2011-12 से पहले, भाजपा के शासन में नगर पालिका एक ही इकाई थी, तब भी कूड़ा और प्रदूषण हुआ करता था. आप 3 नगर पालिकाओं के साथ भी देखेंगे, भाजपा बदलाव नहीं कर पाएगी, यह केवल भ्रष्टाचार कर सकती है.

इसके अलावा दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह बात केंद्रीय गृह मंत्री अच्छी तरह से जानते हैं. वर्तमान में वे सिर्फ चुनाव से भाग रहे हैं और इस तरह बिल लाए हैं. दिल्ली की जनता ने बीजेपी को ठीक से देखा है. अमित शाह जी को पता है कि दिल्ली की जनता नगर निगम चुनाव में उनकी बात नहीं सुनेगी.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/delhi-mcd-integration-bill-passed-by-lok-sabha/