Gujarat Exclusive > राजनीति > काशी विश्वनाथ धाम लोकार्पण को लेकर सियासत तेज, फारुख अब्दुल्ला ने पीएम को दी नसीहत

काशी विश्वनाथ धाम लोकार्पण को लेकर सियासत तेज, फारुख अब्दुल्ला ने पीएम को दी नसीहत

0
648

लखनऊ: चुनावी राज्य उत्तर प्रदेश का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार दौरा कर प्रदेशवासियों को तोहफा दे रहे हैं. राजनीतिक जानकारों की माने तो यूपी को दिल्ली का दरवाजा कहा जा रहा है. ऐसे में भाजपा लगातार कोशिश कर रही है कि चुनाव में वापसी की जाए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंच गए हैं. वह काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का उद्घाटन किया. जिसे लेकर सियासत तेज हो गई है.

काशी विश्वनाथ धाम के उद्घाटन पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फ़ारुख़ अब्दुल्ला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नसीहत देते हुए कहा कि वो धर्म की सेवा कर रहे हैं ये अच्छी बात है लेकिन उन्हें दूसरे धर्मों को भी तवज्जो देना चाहिए. क्योंकि वो सिर्फ एक धर्म के प्रधानमंत्री नहीं है पूरे देश के है और भारत में बहुत सारे धर्म हैं.

वहीं इस मामले को लेकर सपा नेता जया बच्चन ने कहा कि जैसे-जैसे यूपी का चुनाव आ रहा है वो लाल टोपी से इतने खबराएं हुए हैं कि फीते पर फीते काट रहें और शिलान्यास कर रहे हैं. काशी विश्वनाथ मंदिर को अच्छी तरह बनने के लिए वहां पर जिनकी छोटी-छोटी दुकानें थी उनको आपने तो वहां से हटा दिया. क्या आपने उन्हें मुआवज़ा दिया?.

इससे पहले उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने दावा करते हुए कहा है कि काशी विश्वनाथ कॉरिडोर परियोजना को उनकी सरकार ने मंजूरी दी थी और उनके पास दस्तावेजी सबूत भी हैं.

इसके अलावा उन्होंने एक ट्वीट कर लिखा “काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की क्रोनोलॉजी: – सपा सरकार में करोड़ों का आवंटन हुआ, सपा सरकार में कॉरिडोर हेतु भवनों का अधिग्रहण शुरू हुआ, मंदिरकर्मियों के लिए मानदेय तय किया गया, ‘पैदलजीवी’ बताएं कि सपा सरकार के वरुणा नदी के स्वच्छता अभियान को क्यों रोका और मेट्रो का क्या हुआ.”

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/pm-modi-inaugurates-kashi-vishwanath-dham/