Gujarat Exclusive > राजनीति > गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे पर बोली कांग्रेस, दुख इस बात का वह विपक्ष की आवाज नहीं बन पाए

गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे पर बोली कांग्रेस, दुख इस बात का वह विपक्ष की आवाज नहीं बन पाए

0
148

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. बताया जा रहा है कि गुलाम नबी आजाद राहुल गांधी से काफी लंबे वक्त से नाराज चल रहे थे. इस्तीफे में आजाद ने राहुल गांधी पर जमकर वार किया है. जिसकी वजह अब कांग्रेस के नेताओं ने पलटवार किया है. कांग्रेस ने उनके इस्तीफे की वजह और टाइमिंग को लेकर सवाल उठाया है.

कांग्रेस महासचिव अजय माकन ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हमने (गुलाम नबी) आजाद साहब का (इस्तीफे का) पत्र देखा. दुख की बात है कि उन्होंने ऐसे समय में कांग्रेस छोड़ने का फैसला किया जब कांग्रेस देश भर में बढ़ती महंगाई, बेरोज़गारी, ध्रुवीकरण की लड़ाई लड़ने जा रही है. दुख की बात है कि वे इस लड़ाई में हिस्सा नहीं बन रहे.

वहीं इस मामले को लेकर कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि अगर इनके करियर पर हम नज़र दौडाएं तो बहुत बार इन्होंने ऐसी बात कही होंगी और हर बार इनको कुछ मिलता था, अगर एक बार नहीं मिला तो वह नाराज़ हो गए. मैं नहीं समझता कि अगर मुझे कुछ नहीं मिला तो मैं पार्टी को नुकसान पहुंचाऊं. आज ऐसी क्या बात हो गई की वह नाराज़ हो गए? किसी बात पर उठकर चले जाना ठीक नहीं है. हमारी पार्टी की जो सोच है और अगर उस सोच को भुलाकर अगर कोई एक दम से नया रास्ता अपना रहा है, उसको वह रास्ता मुबारक. हम जैसे लोग पार्टी से नहीं जाएंगे.

गुलाम नबी आजाद के इस्तीफा को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जो टिप्पणियां की गई हैं वो उचित नहीं है. मैं खुद सदमे में हूं कि एक 42 साल का व्यक्ति जिसे जिंदगी में सब कुछ मिला हो वो आज ऐसे संदेश दे रहें जो मेरे समझ के परे हैं.

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने इस मामले को लेकर कहा कि ज़ाहिर है कि वे बहुत आहत हुए होंगे. इस स्थिति को आने से बचाई जा सकती थी और यह बात समय-समय पर बताई भी गई. हम निरंतर कमज़ोर होते जा रहे हैं. हमारा यही लक्ष्य रहा है कि राय मशवरा करके उसको हम सुधार सकें.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/ghulam-nabi-azad-resigned-from-congress/