Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में कोरोना की तीसरी लहर की संभावना नहीं के बराबर: आहना

गुजरात में कोरोना की तीसरी लहर की संभावना नहीं के बराबर: आहना

0
913

अहमदाबाद: गुजरात में कोरोना के दैनिक मामलों में बीते कुछ दिनों से कमी दर्ज की जा रही है. दैनिक मामलों में दर्ज की जा रही कमी की वजह से कई जिला कोरोना मुक्त हो चुके हैं. इस बीचे अहमदाबाद हॉस्पिटल्स एंड नर्सिंग होम्स एसोसिएशन के अध्यक्ष ने कहा है कि गुजरात में कोरोना वायरस की तीसरी लहर की संभावना बहुत कम है. उन्होंने कोरोना वैक्सीन की दोनों खुराक लेने और दिवाली की छुट्टियों के दौरान केरल, महाराष्ट्र जाने से बचने की भी सलाह दी है.

अहमदाबाद हॉस्पिटल्स एंड नर्सिंग होम्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. भरत गढ़वी ने कहा कि गुजरात में कोरोना वायरस अधिक म्यूटेंट नहीं हुआ है, इसलिए मौजूदा स्थिति को देखते हुए गुजरात में कोरोना की तीसरी लहर की संभावना बहुत कम है, हालांकि केरल और महाराष्ट्र में इस समय सबसे ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. गढ़वी ने आगे कहा कि आने वाले दिवाली त्योहार के चलते कई लोग बाहर से गुजरात आते हैं. ऐसे लोगों का कोरोना टेस्ट के बाद ही गुजरात में एंट्री दी जानी चाहिए.

नवरात्रि और दिवाली के दौरान कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए, महाराष्ट्र से गुजरात ऐसे लोगों को आने की अनुमति दी जानी चाहिए जिनके पास अनिवार्य कोरोना वैक्सीन का प्रमाण पत्र हो, इतना ही नहीं दिवाली पर गुजरात से बाहर जाने वाले लोगों को केरल जाने से बचना चाहिए, क्योंकि केरल में सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. गुजरात में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए महाराष्ट्र और केरल से आने वाले लोगों के लिए कोरोना वैक्सीन प्रमाणपत्र अनिवार्य कर देना चाहिए.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/vadodara-found-2-mucormycosis-patients/