Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में लम्पी वायरस का कहर यथावत, जानिए 24 घंटे में कितने जानवरों की हुई मौत

गुजरात में लम्पी वायरस का कहर यथावत, जानिए 24 घंटे में कितने जानवरों की हुई मौत

0
253

गांधीनगर: गुजरात में लम्पी वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं. सौराष्ट्र में लम्पी वायरस के 1070 और मामले सामने आए हैं. वहीं बीते 24 घंटे में 46 और जानवरों की मौत हुई है. गुजरात के द्वारका में 241 मामले, राजकोट में 168 मामले, सुरेंद्रनगर में 159 मामले, भावनगर में 153 मामले, जामनगर में 98 मामले और मोरबी में 96 मामले सामने आए हैं.

अब तक 8121 मवेशी संक्रमित हो चुके हैं
गौरतलब है कि पोरबंदर में 87, जूनागढ़ में 38 और गिरसोमनाथ और अमरेली में 15 मामले सामने आए हैं. सौराष्ट्र में लम्पी वायरस का प्रकोप जारी है. इसके अलावा, लम्पी वायरस का प्रभाव सबसे पहले बनासकांठा जिले के धनेरा तालुक के मगरवा में देखा गया था और जब तक वहां इस बीमारी का पता चला, तब तक कुछ जानवरों की मौत हो चुकी थी, उसके बाद से लम्पी वायरस का कहर दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है. बनासकांठा में 8121 मवेशी संक्रमित हो चुके हैं. जिसमें से 3158 पशुओं का उपचार किया जा रहा है.

भावनगर जिले में लम्पी संक्रमण से 11 और मवेशियों की मौत हो गई है. जिला के 11 और गांवों में संक्रमण का असर देखने को मिल रहा है. जैसे-जैसे सकारात्मक मामलों की संख्या बढ़ती है, वैसे-वैसे मौत के मामले भी बढ़ते जा रहे हैं.

लंपी वायरस की वजह से किसानों की चिंता बढ़ती जा रही है. लुम्पी के लगातार बढ़ते प्रकोप से 239 गांवों में मवेशी शिकार हो चुके हैं. लम्पी के लगातार संचरण के कारण भावनगर में दैनिक मामलों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है. जिला पंचायत पशुपालन विभाग द्वारा जारी एक सर्वेक्षण में आज 110 और सकारात्मक मामले सामने आए, जिससे कुल मामलों की संख्या 1511 हो गई. लेकिन सबसे ज्यादा चिंता की बात यह है कि अब तक 173 जानवरों की मौत हो चुकी है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/natasha-sharma-gujarat-insult/