Gujarat Exclusive > गुजरात > नवसारी में बाढ़ के बाद गुजरात-महाराष्ट्र का कनेक्शन कटा, राष्ट्रीय राजमार्ग बंद

नवसारी में बाढ़ के बाद गुजरात-महाराष्ट्र का कनेक्शन कटा, राष्ट्रीय राजमार्ग बंद

0
522

नवसारी: नवसारी जिले में भारी बारिश से 30 फीसदी नवसारी जलमग्न हो गया है. बारिश से नवसर की तीन महत्वपूर्ण नदियां उफान पर हैं. बाढ़ को लेकर जिला प्रशासन को हाई अलर्ट पर रखा गया है. दक्षिण गुजरात में लगातार हो रही बारिश के कारण नवसारी का कनेक्शन टूट गया है. जिला कलेक्टर ने सभी नागरिकों से अपनी सुरक्षा के लिए इस राजमार्ग पर यात्रा करने से बचने का अनुरोध किया है.

नवसारी जिला कलेक्टर अमित प्रकाश ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा कि वो सभी गांव जो पुणा नदी की बाढ़ से प्रभावित होते हैं उन गांव के निवासियों से मेरी एक अपील है कि महुआ तालुका और उसके ऊपर के विस्तार में जो पानी आ रहा है उसकी आवक काफी ज्यादा है और पुणा में खतरे का स्तर 23 फूट आ गया है. इसके बाद नवसारी सिटी और उसके आसपास के गांवों में पानी का भराव शुरू हो जाता है तो समय से सभी नागरिक सुरक्षित आश्रय पर पहुंचे, जिन लोगों के पास संचार का साधन नहीं है उन्हें भी सुरक्षित आश्रय में आने में मदद करें.

नवसारी जिला कलेक्टर अमित प्रकाश ने आगे जानकारी देते हुए कहा कि नवसारी ज़िले में बहने वाली 3 नदियों में जलस्तर बढ़ने से बाढ़ की स्थिति बनी हुई है. करीब 40,000 लोग प्रभावित हुए हैं, उसमें से करीब 2,500 लोगों को हमने सुरक्षित आश्रय स्थल पर पहुंचा दिया है. NDRF द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है.

वहीं गुजरात के वलसाड में लगातार हो रही बारिश की वजह से ज़िले के निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. औरंगा नदी का जलस्तर भी खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है. जिला कलेक्टर शिप्रा आगरे के मुताबिक हमने करीब 550 लोगों को एहतियात के तौर पर स्थानांतरण किया है जिससे हमें बाद में लोगों को बचाना न पड़े. ज़िले में NDRF की दो टीम तैनात हैं. आज सुबह से 550-600 लोग शेल्टर होम या अपने जान-पहचान वालों के घरों में रुके हैं। ज़िले में करीब 50 रोड बंद हैं.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/ahmedabad-wall-collapses-3-workers-die/