Gujarat Exclusive > गुजरात > हे राम: गांधी के गुजरात में हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रतिमा स्थापित, कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने तोड़ा

हे राम: गांधी के गुजरात में हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रतिमा स्थापित, कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने तोड़ा

0
931

गांधीनगर: गुजरात में महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की मूर्ति को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. गोडसे की मूर्ति को हिंदू सेना ने सोमवार को लगाया था जिसे मंगलवार सुबह कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने तोड़ दिया. बीते दिनों जामनगर में हिंदू सेना की एक बैठक में संगठन के गुजरात अध्यक्ष ने इसकी घोषणा की थी. गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रतिमा नवंबर में उसके वर्षगांठ पर लगाने का ऐलान किया गया था.

नाथूराम गोडसे को 10 फरवरी 1949 को महात्मा गांधी हत्याकांड में मौत की सजा सुनाई गई थी, जिसके बाद 15 नवंबर 1949 को नाथूराम गोडसे को फांसी दे दी गई थी. गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रतिमा 15 नवंबर को उसके वर्षगांठ पर लगाया गया था.

जामनगर हिंदू सेना ने 8 अगस्त को नाथूराम गोडसे की प्रतिमा स्थापित करने की घोषणा की थी. जामनगर जिला प्रशासन ने प्रतिम स्थापित करने की जगह नहीं दी थी. जिसकी वजह से हिंदू सेना के लोगों ने प्रतिमा को जामनगर के हनुमान आश्रम में स्थापित किया था.

गांधी के हत्यारे की प्रतिमा स्थापित देख कांग्रेस नेता आश्रम पहुंचे और गोडसे की प्रतिमा को तोड़ा. जामनगर कांग्रेस अध्यक्ष दिगुभा जाडेजा और उनके सहयोगियों ने प्रतिमा को तोड़ दिया था. प्रतिम को तोड़ने के दौरान कांग्रेसी नेताओं ने अपने गले में भगवा पट्टी बांध रखी थी.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/rickshaw-driver-threatens-cng-price-strike/