Gujarat Exclusive > देश-विदेश > नीतीश कुमार का सख्त रवैया, CAA-NRC को लेकर हमारा रुख साफ, जिसको जहां जाना है, जा सकते हैं

नीतीश कुमार का सख्त रवैया, CAA-NRC को लेकर हमारा रुख साफ, जिसको जहां जाना है, जा सकते हैं

0
352

CAA-NRC को लेकर एक बार फिर जनता दल यूनाइटेड में मतभेद दिखाई दे रहा है. पिछले दिनों पार्टी के उपाध्यक्ष और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने इस मामले को लेकर हमला किया था, वहीं अब एक और वरिष्ठ नेता और पार्टी के महासचिव पवन वर्मा ने नीतीश कुमार को CAA-NRC को लेकर पिछले दिनों पत्र लिखा था. उन्होंने दिल्ली चुनाव के लिए भाजपा के साथ पार्टी के गठबंधन पर विरोध किया था. ऐसे में अब पार्टी में चल रहे इस आंतरिक गतिरोध को लेकर नीतीश कुमार ने सख्त रवैया अख्तियार किया है. वह बिना किसी का नाम लिए चेतावनी दी. साथ ही साथ कहा कि उन लोगों के बयान पर मत जाइये, हमारा रुख साफ है.

नीतीश कुमार ने कहा, ‘यदि किसी के पास किसी भी तरह की समस्या है तो व्यक्ति पार्टी या पार्टी की बैठकों में उसकी चर्चा कर सकता है, विमर्श कर सकता है लेकिन इस तरह के सार्वजनिक बयान आश्चर्यजनक हैं. वह जा सकते हैं और अपनी पसंद की किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं. मेरी शुभकामनाएं उनके साथ हैं.

 

CAA का कर चुके हैं विरोध
पवन वर्मा जो पार्टी के महासचिव हैं वहीं प्रशांत किशोर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं इन दोनों नेता लगातार नागरिकता संशोधन विधेयक का कड़ा विरोध कर रहे हैं. पिछले वर्ष इसे संसद में पेश किया गया था. तब वर्मा ने लिखा, ”मेरा मानना है कि हमारी पार्टी के आदर्श महात्मा गांधी, लोहिया, जेपी इस एजेंडा की निंदा करते और इसका कड़ा प्रतिकार करते. वर्मा ने कहा कि वह कुमार से ”विचारधारा पर स्पष्टता चाहते हैं. जद (यू) ने अभी तक वर्मा के पत्र पर प्रतिक्रिया नहीं दी है.