Gujarat Exclusive > देश-विदेश > उड़ीसा और आंध्र प्रदेश में चक्रवाती तूफान की चेतावनी, IMD ने जारी किया येलो अलर्ट

उड़ीसा और आंध्र प्रदेश में चक्रवाती तूफान की चेतावनी, IMD ने जारी किया येलो अलर्ट

0
1102

नई दिल्ली: मौसम विभाग ने कहा है कि बंगाल के पूर्वोत्तर और उससे सटे पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी पर बना दबाव अगले 12 घंटों में चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा. आंध्र प्रदेश और उड़ीसा के लिए चक्रवात की चेतावनी जारी की गई है. मौसम विभाग ने कहा कि यह प्रणाली 26 सितंबर की शाम तक कलिंगपट्टनम के आसपास दक्षिण उड़ीसा और उत्तरी आंध्र प्रदेश को पार करने की संभावना है. इस चक्रवात को ‘गुलाब चक्रवात’ के नाम से जाना जाएगा.

आईएमडी भुवनेश्वर के वैज्ञानिक डॉ. संजीव द्विवेदी ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए बताया कि डीप डिप्रेशन की स्थिति 25 सितंबर को उत्तर और पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के पास है. यह गोपालपुर से 510 किलोमीटर पूर्व- दक्षिण-पूर्व की दूरी पर है. कलिंगापट्टनम से पूर्व-उत्तर-पूर्व पर 590 किलोमीटर की दूरी पर है. इसके अगले 12 घंटे में चक्रवाती तूफान बनने की संभावना है. उत्तर आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा के विशाखापट्टनम गोपालपुर के पास कलिंगापट्टनम में 26 सितंबर की शाम को लैंडफॉल करने की संभावना है. लैंडफॉल के समय हवा की गति 70-80 किलोमीटर प्रति घंटे रहने की संभावना है.

चक्रवात के अलर्ट पर ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त प्रदीप कुमार जेना ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा कि बंगाल की खाड़ी में एक लो प्रेशर बना था जो अभी डीप डिप्रेशन का रूप ले चुका है. ऐसा लग रहा है कि यह चक्रवात कल शाम तक आंध्र प्रदेश के कलिंगपटनम में लैंडफॉल करेगा. IMD के साथ मिलकर 7 ज़िलों के लिए अलर्ट जारी किया है.

ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त प्रदीप कुमार जेना ने आगे कहा कि ज़िला प्रशासन भी पुलिस के साथ मिलकर हालात का जायज़ा ले रहा है. उनको सहयोग देने के लिए हमने NDRF की 24 टीमें और फायर विभाग की 100 टीमें तैनात की हैं.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/punjab-cabinet-expansion-tomorrow/