Gujarat Exclusive > देश-विदेश > मोदी सरकार की चौतरफा आलोचना के बीच फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

मोदी सरकार की चौतरफा आलोचना के बीच फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

0
742

सरकार द्वारा भारी कर संग्रह के चलते भारतीय तेल कंपनियों ने मंगलवार 5 अक्टूबर को एक बार फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की है. सरकारी तेल कंपनियों ने आज पेट्रोल की कीमतों में 25 पैसे प्रति लीटर और डीजल की कीमतों में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की. इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल 102.64 रुपये प्रति लीटर और डीजल 91.07 रुपये प्रति लीटर में बिक रहा है.

पेट्रोल-डीजल के जरिए आपकी आमदनी को सरकार निगल रही है. सरकार की अस्थिर नीतियों ने भी लोगों को अपनी बचत का उपयोग करने के लिए मजबूर किया है. सरकार पेट्रोल-डीजल पर भारी टैक्स लगाकर अपना खर्च चला रही है, लेकिन इसका कई क्षेत्रों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है, जिससे हर दिन महंगाई में तेज बढ़ोतरी हो रही है.

देश को निजीकरण की कगार पर धकेलने वाले पीएम मोदी ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर एक बार भी बयान नहीं दिया है. केवल अंतरराष्ट्रीय कीमतों का हवाला देकर भाव वृद्धि की जाती है. आने वाले दिनों में आपकी सारी बचत पेट्रोल और डीजल पर टैक्स के जरिए सरकार अपनी जेब में डाल लेगी. लेकिन आम लोग आज भी मोदी सरकार से अच्छे दिन की आस लगाकर बैठे हैं.

हाल ही में ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के बाद 26 राज्यों में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है. मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, जम्मू और कश्मीर, आंध्र प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक, मणिपुर, नागालैंड, पांडिचेरी, तेलंगाना, पंजाब, सिक्किम, उड़ीसा, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, गुजरात और राजस्थान में पेट्रोल 100 के पार बिक रहा है. वहीं डीजल भी शतक लगाने के करीब पहुंच रहा है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/pandora-paper-leak-anil-ambani-revealed/