Gujarat Exclusive > राजनीति > संसद संवाद का सक्षम माध्यम है, यहां खुले मन से संवाद होना चाहिए: PM मोदी

संसद संवाद का सक्षम माध्यम है, यहां खुले मन से संवाद होना चाहिए: PM मोदी

0
247

संसद का मानसून सत्र आज से शुरू हो गया है. सत्र की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मीडिया को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा कि सदन के बाहर गर्मी है, हम देखेंगे कि सदन में गर्मी कम होगी या नहीं. उन्होंने सभी से सदन की गरिमा बनाए रखने की अपील की. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह सत्र इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि आज राष्ट्रपति चुनाव हो रहा है. इस मानसून सत्र में नए राष्ट्रपति और नए उपराष्ट्रपति का मार्गदर्शन मिलेगा. सदन में खुले मन से चर्चा होनी चाहिए.

संसद के मानसून सत्र में हिस्सा लेने पहुंचे पीएम मोदी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि ये सत्र बहुत महत्वपूर्ण है और इसलिए भी महत्वपूर्ण हैं क्योंकि इसी समय राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति पद के चुनाव हो रहे हैं. आज मतदान भी हो रहा है और इसी कालखंड में देश को नए राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति मिलेंगे.

संसद पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम हमेशा सदन को संवाद का सक्षम माध्यम मनाते हैं, जहां खुले मन से संवाद हो, खुले मन से वाद-विवाद हो, आलोचना भी हो और उत्तम प्रकार से विश्लेषण हो ताकि नीति और निर्णय में बहुत ही सकारात्मक योगदान हो सके.

विपक्ष करेगी घेराव

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विपक्ष की ओर से कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने मानसून सत्र के दौरान चर्चा के लिए 16 मुद्दों को सूचीबद्ध किया, जिसमें अग्निपथ योजना, महंगाई और मुद्रास्फीति, ECI, CBI, CVC जैसे संगठनों की विश्वसनीयता में गिरावट, विपक्षी नेताओं के खिलाफ अलोकतांत्रिक कार्रवाई शामिल हैं. इन मुद्दों पर विपक्ष सदन में सरकार का घेराव करेगी.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/parliament-monsoon-session-begins-today/