Gujarat Exclusive > राजनीति > जालोर: मृतक छात्र के परिजनों से मिले सचिन पायलट, कहा- पीड़ितों पर लाठीचार्ज दुर्भाग्यपूर्ण

जालोर: मृतक छात्र के परिजनों से मिले सचिन पायलट, कहा- पीड़ितों पर लाठीचार्ज दुर्भाग्यपूर्ण

0
157

राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मंगलवार को जालोर के सुराणा गांव पहुंचकर मृतक छात्र के परिजनों से मुलाकात की. इस दौरान करीब आधे घंटे परिवार के लोगों ने सचिन पायलट को पूरे घटनाक्रम से अवगत करवाया. परिजनों से मिलकर सचिन पायलट ने हर मुमकिन मदद का आश्वासन भी दिया है. इतना ही नहीं मीडिया से बात करते हुए उन्होंने अपनी सरकार पर निशाना भी साधा है.

सचिन पायलट ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि स्कूल में शिक्षक द्वारा पीटने से मासूम छात्र की मौत हो गई. FIR में लिखा हुआ है कि वह शिक्षक के मटके से पानी पीना चाह रहा था जिसके बाद भेदभाव किया गया. परिजनों ने बताया कि उसे रात में ही दफना दिया गया था. इतना ही नहीं पुलिस ने पीड़ित परिवार पर लाठीचार्ज भी किया था.

सचिन पायलट के मुताबिक परिवार पर लाठीचार्ज करने वाले अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. शिक्षक को तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन हमें इस तरह के माहौल को हटाना होगा और दलित समुदाय को यह महसूस करना चाहिए कि यह उनकी सरकार है और उनके साथ दुर्व्यवहार करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा.

कांग्रेस विधायक ने दिया था इस्तीफा

इससे पहले राजस्थान के बारां जिले की अटरू विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक पानाचंद मेघवाल ने घटना से दुखी होकर इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने कहा कि जालौर में 9 वर्षीय दलित छात्र की मृत्यु से मैं आहत हूं और मैं अपना इस्तीफा दे रहा हूं. दलितों और वंचित समुदायों पर लगातार अत्याचार हो रहे हैं. मुख्यमंत्री को भेजे अपने इस्तीफे में पानाचंद मेघवाल ने लिखा है कि आजादी के 75 साल बाद भी राज्य में दलितों और वंचितों पर हो रहे अत्याचारों को देखकर दुखी हूं. मेरा समाज आज ऐसे अत्याचार झेल रहा है, जिसे मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/cm-shivraj-visits-flood-affected-area/