Gujarat Exclusive > गुजरात > जनभावना के सामने झुकी गुजरात सरकार, सी-प्लेन के किराया में की भारी कटौती

जनभावना के सामने झुकी गुजरात सरकार, सी-प्लेन के किराया में की भारी कटौती

0
1182

अहमदाबाद: गुजरात सरकार ने सी-प्लेन के भारी भरकम भाड़ा  जनभावना को मद्देनजर रखते हुए कम कर दिया है. सरकार ने अब एक तरफ का किराया 4800 से कम करके 1500 कर दिया है.

पहले सरकार ने ऐलान किया था कि सी-प्लेन से यात्रा करने वाले लोगों को अहमदाबाद से केवडिया का किराया 4800 देना पड़ेगा.

कोरोना काल में इतना किराया आम आदमियों के लिए काफी ज्यादा था. इसलिए अब सरकार यात्रियों को आकर्षित करने के लिए किराया में भारी कमी की घोषणा की है.

जनभावना को लेकर किया गया फैसला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 अक्टूबर को सी-प्लेन प्रोजेक्ट का उद्घाटन करेंगे. सी-प्लेन अहमदाबाद से केवडिया के बीच दिन में दो बार उड़ान भरेगी.

उसके बाद यात्रियों की प्रतिक्रिया के आधार पर उड़ानों की संख्या बढ़ाई जाएगी. इस प्रकार सी-प्लेन दोनों दिशाओं को मिलाकर कुल चार बार उड़ान भरेगा.

कल होगा भव्य पूर्वाभ्यास

मिल रही जानकारी के अनुसार गुरुवार सुबह साबरमती रिवरफ्रंट पर सी-प्लेन का भव्य पूर्वाभ्यास किया जाएगा. सरकार ने पहले ऐलान किया था कि इसका किराया 4800 रुपया होगा.

सरकार के इस फैसले से लोगों में भारी नाराजगी दिखाई दे रही थी. इस मामले को लेकर एक उच्च-स्तरीय बैठक आयोजित की गई.

बैठक के बाद ऐलान किया गया कि अब यात्रियों को सी-प्लेन से यात्रा करने के लिए पंद्रह सौ रुपये देना पड़ेगा.

हुआ था विवाद

इससे पहले साल 2017 के गुजरात चुनाव में नरेंद्र मोदी सी प्लेन में बैठकर अहमदाबाद केवडिया गए थे. तभी सरकार ने इसे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के साथ जोड़ने का फैसला कर लिया था.

स्पाइस जेट एयरलाइन को सी प्लेन उड़ाने की जिम्मेदारी दी गई है. उस दौरान कांग्रेस ने पीएम मोदी पर आरोप भी लगाया था.

कांग्रेस का कहना था कि गुजरात के किसान पानी के लिए परेशान थे उस दौरान सी-प्लेन को उड़ाने के लिए साबरमती नदी में पानी छोड़ा गया था.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/gujarat-bjp-news-election/