Gujarat Exclusive > देश-विदेश > नागरिकता कानून को लेकर लोगों में फैले डर का दिखा असर, सर्वे करने गई महिला हुई गुस्से की शिकार

नागरिकता कानून को लेकर लोगों में फैले डर का दिखा असर, सर्वे करने गई महिला हुई गुस्से की शिकार

0
276

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर इन दिनों पूरे देश में विरोध प्रदर्शन जारी है. वही एनसीआर को लेकर बीजेपी के नेताओं के अलग-अलग बयान सामने आने के बाद लोगों में शक और भय दोनो पैदा हो गया है. ऐसे में जहां बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा से जुड़े लोगों को जनता के गुस्से का शिकार होना पड़ रहा है. नागरिकता कानून के समर्थन में निकलने वाली रैली पर पथरवा किया जा रहा. इतना ही नहीं राजस्थान में आज आम लोगों के गुस्से का शिकार एक महिला कर्मचारी को होना पड़ा.

मामला है राजस्‍थान के कोटा का जहां पर एक महिला कर्मचारी नसरीन बानो आर्थिक गणना करने गई थीं. लोगों ने महिला पर आरोप लगाया कि वह जो डाटा इकट्ठा करने आई हैं, वह नागरिकता कानून के लिए है. नसरीन बानो ने आरोप लगाया कि लोगों ने मेरा फोन छीन लिया और करीब 1000 घरों के डाटा प्रविष्टि वाले मोबाइल एप्लिकेशन को डिलीट कर दिया.

आर्थिक स्थिति की जानकारी के लिए राजस्थान सरकार की महिला कर्मचारी कोटा के एक इलाके में सर्वे करने गई थी. लोगों से मिलने वाली जानकारी को एक मोबाइल एप्लीकेशन में सेव किया जा रहा था. कुछ लोगों को शक था कि नसरीन बानो सीएए का सर्वे कर रही है. जिसके बाद नसरीन को लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ा.

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस वहां पहुंची और एक व्यक्ति को शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया. महिला की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.