Gujarat Exclusive > देश-विदेश > UP पुलिस की बर्बरता, कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की पिटाई से मौत

UP पुलिस की बर्बरता, कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की पिटाई से मौत

0
923

उत्तर प्रदेश पुलिस की बर्बरता का एक नया मामला सामने आया है. गोरखपुर पुलिस की पिटाई से कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की मौत हो गई है. पुलिस के मुताबिक होटल में रुके कुछ संदिग्ध युवकों की जांच के दौरान एक युवक हड़बड़ाहट में होटल के कमरे में गिर गया था. जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लेकिन उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई है. लेकिन मनीष गुप्ता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने पुलिस की झूठी कहानी की पोल खोलकर रख दी है.

मामला सामने आने के बाद गोरखपुर एसपी विपिन टाडा ने जानकारी देते हुए बताया कि थाना रामगढ़ताल पुलिस द्वारा संदिग्ध व्यक्तियों की चेकिंग के दौरान होटल में गई थी. होटल के कमर्चारियों को साथ लेकर पुलिस की टीम कमरे की चेकिंग करने गई थी. जहां पर हड़बड़ाहट में एक युवक की कमरे में गिरने से चोट गई. इसके बाद पुलिस ने तत्काल युवक को बीआरडी अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

पुलिस के इस बयान की पोल उस वक्त खुल गई जब मनीष गुप्ता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला है कि उसके सिर, चेहरे और शरीर पर गंभीर चोट के निशान हैं. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पीटकर हत्या का खुलासा हुआ है और लगभग पूरे शरीर पर गंभीर चोट के निशान मिले हैं. इतना ही नहीं मनीष के सिर के अगले हिस्से पर तेज प्रहार किया गया था जिसकी वजह से उसके नाक के पास से खून बह रहा था. मृतक के दोस्तों ने पुलिस पर पीटकर हत्या करने का आरोप लगाया है.

कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की हत्या के मामले को लेकर उनकी पत्नी मीनाक्षी गुप्ता ने कहा, “मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हमारा सहयोग किया है. हमारी FIR दर्ज़ नहीं हो रही थी उन्होंने हमारा केस दर्ज़ कराया है. मीनाक्षी ने आगे कहा कि जिस होटल में मेरे पति की हत्या हुई उस होटल का लाइसेंस रद्द होना चाहिए और सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि होटल का मालिक फिर से कहीं और होटल ना बनाए. मैं होटल के ख़िलाफ़ भी मुक़दमा दर्ज़ करूंगी. होटल का मालिक हमारे साथ सहयोग नहीं कर रहा है.

https://archivehindi.gujaratexclsive.in/bhawanipur-polling-continues/